Pradhan Mantri Vidyalakshmi Yojana Kya Hai In Hindi

Rate this post

Pradhan Mantri Vidyalakshmi Yojana Kya Hai

वर्तमान समय में बच्चो को अच्छी शिक्षा देना आसान नहीं है, क्योकि दिन- प्रतिदिन शिक्षा व्यस्था काफी महँगी होती जा रही है | जिसके कारण निर्धन और गरीब परिवार के बच्चे पढ़ाई में अच्छे होते हुए भी धन के अभाव में आगे शिक्षा ग्रहण करनें में असमर्थ हो जाते है | निर्धन और गरीब परिवार की इन्ही समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार नें विद्या लक्ष्मी योजना लॉन्च की है।

पी एम विद्या लक्ष्मी योजना भारत सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमज़ोर विद्यार्थियों और उन छात्रों को ध्यान में रखकर लायी गयी है जो पैसे की कमी की वजह से आगे नहीं पढ़ पाते। इस योजना के तहत सभी जरूरतमंद विद्यार्थियो को विभिन्न बैंकों से अलग अलग ब्याज दर पर लोन मिल सकेगा। इस लोन से विद्यार्थी अपनी पढाई जारी रख सकेंगे।

इस योजना के अंतर्गत बच्चों की पढ़ाई के लिए मंत्रालयों और विभागों की स्कॉलरशिप स्कीम के माध्यम से पैसा दिलाया जाता है। विद्यालक्ष्मी लोन योजना क्या है? इसके बारें में आपको विस्तार से जानकारी दे रहे है |

आज के वक्त में शिक्षा का क्या महत्व है ये तो हम सभी जानते है। शिक्षा को बढ़ावा देने तथा देश में साक्षरता का स्तर बढ़ाने के लिए सरकार आये दिन हर संभव प्रयास करती है। उन्ही प्रयासों में से एक है “प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी एजुकेशन लोन योजना”। इस योजना के तहत पैसे की कमी से पढाई छोड़ने के लिए मजबूर छात्र – छात्राओं को इस माध्यम से मिलने वाली धनराशि से आगे पढ़ने की सुविधा हो जाएगी।

ये योजना उन गरीब व आर्थिक रूप से कमज़ोर विद्यार्थियों के लिए है जो पैसे के अभाव के चलते अपनी पढाई जारी नहीं रख सकते।इसी बात को ध्यान में रखकर सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है। इस योजना से वो छात्र व छात्राएं भी पढ़ सकेंगे जो काबिलियत रखते हुए भी पैसे की तंगी के चलते पढ़ नहीं पाते। सरकार ऐसे विद्यार्थियों को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से PM Vidya Lakshmi Education Loan Yojana के अंतर्गत आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

प्रधानमंत्री विद्यालक्ष्मी योजना का उद्देश्य

सरकार द्वारा इस पोर्टल को लांच करनें का उद्देश्य छात्रों के तकनीकी प्रशिक्षण, विदेश या  देश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु बैंक से ऋण (लोन) लेने की समस्या का निदान करना है। इस पोर्टल के माध्यम से छात्र www.vidyalakshmi.co.in पर लोन से सम्बंधित देश के सभी बैंकों की जानकारी प्राप्त कर अपनी सुविधा अनुसार बैंक में ऋण के लिए आवेदन एक फॉर्म भरकर कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्यम से ऋण पास होने की स्थिति तथा सभी प्रकार के कोर्स से सम्बंधित सरकार द्वारा दिए जाने वाली ऋण की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्यम से सरकार द्वारा प्रदान किये जाने वाले छात्रों को छात्रवृत्ति (स्कालरशिप) की जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है।

प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी एजुकेशन लोन योजना में कैसे करें आवेदन ?

प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी एजुकेशन लोन योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ का फायदा उठाने के लिए आपको सबसे पहले आपको इस योजना से सम्बंधित पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए हमारे आर्टिकल में बताये गए तरीके को फॉलो करें :

  • सबसे पहले आप PM Vidya Lakshmi education loan yojana की ऑफिसियल साइट पर जाएँ। ऑफिसियल साइट पर जाने के लिए आप www.vidyalakshmi.co.in इस लिंक को कॉपी कर सकते हैं।
  • इसके बाद आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
  • अब आपको होम पेज पर दाहिने साइड पर रजिस्ट्रेशन के लिए “रजिस्टर” पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा। यहाँ पर आप देख सकतें हैं कि आपके रजिस्ट्रेशन के लिए आपसे कुछ जानकारियां पूछी गयी है। इसमें आपका नाम , ईमेल आईडी , पासवर्ड , मोबाइल नंबर ,कैप्चा कोड और सहमति पूछी जाएगी।
  • आप अब सहमति पर टिक कर दें।
  • उसके बाद आप “सबमिट ” पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपकी ईमेल आईडी पर एक एक्टिवेशन लिंक सेंड किया जाएगा जोकि 24 घंटो के लिए मान्य रहेगा।
  • अब आप अपनी रजिस्टर्ड ईमेल आईडी को ओपन करेंगे। और उस लिंक को क्लिक करेंगे। इस तरह से आपका अकाउंट एक्टिवेट हो जाएगा।
  • अब आप की PM Vidya Lakshmi education loan yojana के तहत पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी होती है।

PM Vidya Lakshmi Education Loan Yojana पोर्टल में लॉगिन कैसे करें ?

  • अब आप वापस पोर्टल पर आकर स्टूडेंट लॉगिन करेंगे।
  • इसके लिए आपको नियत स्थान पर अपनी ईमेल आईडी , पासवर्ड और कैप्चा कोड भरने के बाद “लॉगिन” पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आपके सामने खुल जाएगा “डैशबोर्ड “. यहाँ आपको “लोन एप्लीकेशन फॉर्म ” का ऑप्शन दिखेगा। यहाँ पर आपको क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आप के सामने फॉर्म भरने से सम्बंधित इंस्ट्रक्शंस खुल जाएंगे। इन्हे पढ़ने के बाद आप “नेक्स्ट “पर क्लिक कर दें।
  • अब आप अगले पेज पर पूछी हुई सारी जानकारी भर लें और “सेव ” पर क्लिक कर दें। फिर नेक्स्ट पर क्लिक करें।
  • अगले पेज पर पर्सनल डिटेल्स भरनी होगी। जहाँ आपका नाम , माता पिता या पति का नाम, उनके डीटेल्स , घर का पता आपका पैन कार्ड नंबर इत्यादि भी भरना होगा।
  • फिर “सेव” के बाद “नेक्स्ट “ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • अब आपको “प्रेजेंट बैंकर्स डिटेल ” भरनी होगी। वहां पर आप सभी जानकारी भरकर सबमिट कर दें। नेक्स्ट को क्लिक करने के बाद अगला पेज खुलेगा।
  • यहाँ आपको अपने कोर्स , इंस्टिट्यूट इत्यादि के बारे में जानकारी देनी होगी। फिर सेव और नेक्स्ट पर क्लिक कर दें।
  • अब आपको अगले पेज पर आपके कोर्स में लगने वाली फीस के बारे में जानकारी देनी है। इसके बाद आपको “रीपेमेंट की जानकारी देंगे। मतलब आप कितनी किश्तों में लोन को वापस करेंगे। इसके बाद सबमिट और नेक्स्ट पर क्लिक कर दें।
  • अब अगले पेज पर आपको अपने डाक्यूमेंट्स अपलोड करने होंगे। इसके बाद आप सभी शर्तों को सहमति देंगे और उसके बाद नेक्स्ट पर क्लिक कर दें.
  • आगे आप के सामने एक डायलाग बॉक्स आ जाएगा जिसमे आपसे पुछा जाएगा की क्या आप लोन स्कीम को सर्च और अप्लाई करना चाहते हैं। अगर हाँ तो यस पर क्लिक कर दें।
  • अब आप डैश बॉक्स पर सर्च एंड अप्लाई फॉर लोन स्कीम पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आप अपना कोर्स का नाम , लोकेशन आदि के बाद आप को कितना लोन चाहिए , ये सारी जानकारी भरने के बाद सर्च पर क्लिक कर दें।
  • आपकी जानकारी और जरुरत के हिसाब से आप को जो भी बैंक लोन दे सकते हैं उनकी लिस्ट आपके सामने आ जाएगी। आप अपने पसंद से चुन सकते हैं।
  • इसे लिए आप उस बैंक के नाम के आगे अप्लाई पर क्लिक कर दें और बाकि की पूछी गयी जानकारी भर दें।
  • इस तरह से आप के द्वारा पी एम विद्यालक्ष्मी योजना तहत लोन के लिए अप्लाई करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

विद्या लक्ष्मी योजना के लाभ

विद्या लक्ष्मी योजना की सहायता से छात्र अपनी शिक्षा जारी रख सकेंगे | योजना के अंतर्गत छात्र पोर्टल के माध्यम से 13 बैंकों की 22 प्रकार के लोन का लाभ प्राप्त कर सकते है, और अपनी आवश्यकता के अनुसार बैंक से लोन ले सकेंगे |  बैंक द्वारा पोर्टल पर लोन से संबंधित जानकारी के साथ स्कॉलरशिप की जानकारी भी अपलोड की जाएगी | लोन लेने के लिए एकीकृत प्लेटफ़ॉर्म की वजह से छात्रों को एजुकेशन लोन के लिए इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा |

इस योजना के अंतर्गत यदि आप 4 लाख रुपए तक के एजुकेशन लोन अर्थात शिक्षा ऋण के लिए आवेदन करते हैं, तो यह लोन आपको माता-पिता के साथ संयुक्त रूप से मिलेगा, और इसके लिए किसी प्रकार की सिक्योरिटी जमा कराने की आवश्यकता नहीं होती है।

यदि आप  4 से 6.5 लाख रुपए के बीच लोन के लिए आवेदन करते है, तो आपको किसी तीसरे व्यक्ति की गारंटी देनी पड़ेगी। यदि लोन की राशि  6.5 लाख रुपए से अधिक है, तो बैंक आपको कोई संपत्ति बंधक रखने के लिए कह सकता है।

पीएम विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण योजना क्या है?

पीएम विद्या लक्ष्मी योजना भारत सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों और उन छात्रों को ध्यान में रखते हुए लाई गई है जो पैसे की कमी के कारण आगे की पढ़ाई नहीं कर सकते हैं। इस योजना के तहत सभी जरूरतमंद छात्र विभिन्न बैंकों से विभिन्न ब्याज दरों पर ऋण प्राप्त कर सकेंगे। इस लोन से छात्र अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे।

इस छात्रवृत्ति योजना (विद्या लक्ष्मी योजना) के तहत कैसे मदद मिलेगी?

सबसे पहले छात्रों को इस योजना के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा। इसके बाद आपको लॉग इन कर फॉर्म भरना होगा। आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरनी है और फिर अपनी रुचि/आवश्यकता के अनुसार उस बैंक में आवेदन करना है।

विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण योजना में पंजीकरण कैसे और कहाँ प्राप्त करें?

आप इस योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं। इसके लिए आपको इस योजना से संबंधित पोर्टल पर जाना होगा। वहां से आप अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। पंजीकरण प्रक्रिया जानने के लिए हमारा पूरा लेख पढ़ें। इसमें बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके आप आसानी से अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

पीएम विद्या लक्ष्मी योजना में नामांकन के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी?

इस योजना में नामांकन के लिए आवश्यक दस्तावेज।

  • आईडी प्रूफ (वोटर आईडी, आधार कार्ड, पैन कार्ड)
  • हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की मार्कशीट की फोटोकॉपी
  • जिस कॉलेज से आप पढ़ाई करना चाहते हैं उसका एडमिट कार्ड और पूरी लागत का विवरण।
  • एड्रेस प्रूफ (वोटर आईडी, आधार कार्ड, बिजली बिल)
  • माता-पिता का आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

प्रधानमंत्री विद्यालय योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपको हमारे आर्टिकल में स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी मिल जाएगी।

पीएम विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण योजना पोर्टल के क्या लाभ हैं?

इस योजना का सबसे पहला लाभ छात्रों को मिलेगा। जो छात्र पैसे की कमी के कारण अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाए या उन्हें अधूरा छोड़ना पड़ा, अब सरकार की इस योजना के तहत उनके लिए ऋण की व्यवस्था की गई है।
इस योजना के तहत एक पोर्टल बनाया गया है जिसके माध्यम से आप ऋण सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।
पंजीकरण के बाद आप इस पोर्टल के माध्यम से अपनी आवश्यकता के अनुसार ऋण लेने के लिए 38 बैंकों और 127 योजनाओं में से किसी भी बैंक को चुन सकते हैं।
अन्य फायदे जानने के लिए आप हमारा यह लेख पढ़ सकते हैं

प्रधानमंत्री विद्या लक्ष्मी योजना के तहत कितना ऋण लिया जा सकता है?

इस योजना के तहत आप अपनी आवश्यकता के अनुसार बैंकों से ऋण ले सकते हैं। आपको अपनी पढ़ाई से संबंधित सभी खर्चों का विवरण देना होगा और उसकी एक प्रति भी जमा करनी होगी। पढ़ाई पूरी करने के बाद आपको लगभग 5 से 7 साल की समय सीमा मिलती है जिसमें आपको राशि चुकानी होती है। इसलिए, इन पहलुओं पर विचार करने के बाद ही ऋण की लागत तय करें।

प्रधान मंत्री विद्या लक्ष्मी कार्यक्रम पात्रता

विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण योजना विभिन्न प्रदाताओं से शिक्षा ऋण के लिए आसान ऑनलाइन पहुँच प्रदान करती है और छात्र एक सामान्य विद्या लक्ष्मी ऋण आवेदन पत्र (CELAF) के माध्यम से कई उधारदाताओं के लिए आवेदन कर सकते हैं।

छात्रों के लिए पात्रता मानदंड

विद्या लक्ष्मी योजना के माध्यम से शिक्षा ऋण पर ऋण प्राप्त करने वाले छात्रों को संबंधित ऋणदाता द्वारा निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करना चाहिए। हालाँकि, यहाँ कुछ बुनियादी शर्तें हैं:

विद्या लक्ष्मी योजना के तहत भारत में शिक्षा ऋण के लिए आवेदन करने के लिए प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा में अर्हता प्राप्त करने के बाद आपको अपने पसंदीदा पाठ्यक्रम में प्रवेश सुरक्षित करना होगा।
आपको भारत का नागरिक होना चाहिए।
इस योजना के अंतर्गत आने वाले पाठ्यक्रम
उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आप विद्या लक्ष्मी पोर्टल के माध्यम से निम्नलिखित पाठ्यक्रमों के लिए भारत में छात्र ऋण प्राप्त कर सकते हैं:

नियमित डिप्लोमा और डिग्री पाठ्यक्रम जैसे शिपिंग, पायलट प्रशिक्षण, इंजीनियरिंग, आदि
IIM, IIT और अन्य स्वायत्त संस्थानों से नियमित डिग्री और डिप्लोमा पाठ्यक्रम
केंद्र या राज्य सरकार द्वारा अनुमोदित नर्सिंग पाठ्यक्रम, शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम, आदि
पेशेवर और तकनीकी विषयों के डिग्री और डिप्लोमा पाठ्यक्रम, स्नातकोत्तर और स्नातक पाठ्यक्रम। यूजीसी, एआईसीटीई, सरकार, आदि से संबद्ध विश्वविद्यालयों / कॉलेजों में इनका अनुसरण किया जाना चाहिए
यदि आप किसी विदेशी संस्थान में दाखिला लेते हैं, तो निम्नलिखित पाठ्यक्रम शामिल हैं:
कोर्स जो यूएसए में सर्टिफाइड पब्लिक अकाउंटेंट (सीपीए), लंदन में चार्टर्ड इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट अकाउंटेंट्स (सीआईएमए) आदि द्वारा संचालित किए जाते हैं।

एमबीए, एमसीए, एमएस, और ऐसे अन्य नौकरी उन्मुख डिप्लोमा और डिग्री पाठ्यक्रम विदेशों में प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों से
अगर आपको अतिरिक्त फंडिंग की आवश्यकता है, तो शिक्षा के लिए संपत्ति पर बजाज फिनसर्व लोन का लाभ उठाएं। संपत्ति पर हमारा अध्ययन ऋण रु. 5 करोड़* सभी खर्चों के लिए।

Pradhan Mantri Vidya Lakshmi Karyakram Eligibility

The Vidya Lakshmi education loan scheme provides easy online access to education loans from various providers and students can apply to multiple lenders through a common Vidya Lakshmi loan application form (CELAF).

Eligibility criteria for students

Students availing a loan through the Vidya Lakshmi scheme on education loan must meet the eligibility norms laid down by the concerned lender. However, here are some basic terms:

  • You must secure admission to your preferred course after qualifying at the relevant entrance exam to apply for an education loan in India under the Vidya Lakshmi scheme.
  • You must be a citizen of India.

Courses covered under this scheme

To pursue higher education you can avail a student loan in India for the following courses via the Vidya Lakshmi portal:

  • Regular diploma and degree courses such as shipping, pilot training, engineering, etc
  • Regular degree and diploma courses from IIM, IIT, and other autonomous institutions
  • Central or State Government-approved nursing courses, teacher training courses, etc
  • Degree and diploma courses of professional and technical disciplines, post-graduate, and graduate courses. These must be pursued at universities/ colleges affiliated to UGC, AICTE, Govt., etc

If you enroll in a foreign institute, the following courses are covered:

Courses which are conducted by Certified Public Accountant (CPA) in the USA, Chartered Institute of Management Accountants (CIMA) in London, etc

  • MBA, MCA, MS, and such other job-oriented diploma and degree courses from reputed educational institutions overseas
  • In case you need additional funding, avail the Bajaj Finserv Loan Against Property for Education. Our study loan on property offers up to Rs. 5 Crore* for all expenses.

Leave a Comment

Your email address will not be published.