Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana (PMJJBY) 2022

Rate this post

Prdhanmantri Jeevan Jyoti Bima Yojana अप्लाई ऑनलाइन और जीवन ज्योति बीमा योजना jansuraksha.gov.इन एप्लीकेशन स्टेटस व क्लेम प्रक्रिया की जाँच करे

भारत सरकार द्वारा नागरिकों को लाभ प्रदान करने के लिए अनेक योजनाएं चलाई जाती है ऐसी भारत सरकार द्वारा शुरू की गई है जिसका नाम प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना है इस योजना की शुरुआत भारत के जीवन बीमा निगम एवं अन्य निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के माध्यम से पेश की जा रही है l

Pradhanmantri Jeevan Jyoti Bima Yojana के अंतर्गत यदि किसी आवेदक की 55 साल की उम्र से पहले किसी किसी कारण वश मृत्यु हो जाती है तो सरकार द्वारा उसके नॉमिनी को ₹200000 का जीवन बीमा प्रदान किया जाएगा योजना से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए जैसे इसके लाभ, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया, जरूरी दस्तावेज इत्यादि के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें,

योजना के अंतर्गत Premium की राशि में किया गया संशोधन

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की premium दरों को 31 May 2022 को संशोधित किया गया है। इस योजना की premium दरों में वृद्धि करने का निर्णय लंबे समय से चले आ रहे प्रतिकूल दावों के अनुभव को देखते हुए किया गया है। अब इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ₹1.25 प्रतिदिन premium का भुगतान करना होगा। जिसके अंतर्गत अब प्रतिमाह premium की राशि ₹330 से बढ़कर ₹436 हो जाएगी। इस योजना को 2015 में आरंभ किया गया था। पिछले 7 वर्षों में इस योजना के अंतर्गत premium rate में कोई भी संशोधन नहीं किया गया था। 31 March 2022 तक इस योजना के अंतर्गत सक्रिय ग्राहकों की संख्या 6.4 करोड़ दर्ज की गई है।

PMJJBY प्रीमियम धनराशि

इस योजना के अंतर्गत पॉलिसीधारक को हर साल 330 रूपये का प्रीमियम जमा करना होगा । जो हर साल मई के महीने में ग्राहक के बचत खाते से ऑटो-डेबिट (Auto Debit) किया जाएगा।इस योजना के अंतर्गत  ईडब्ल्यूएस (EWS) और बीपीएल (BPL) सहित लगभग सभी आय समूहों से जुड़े सभी नागरिको के लिए प्रीमियम की किफायती दर उपलब्ध है | Pradhanmantri Jeevan Jyoti Bima Yojana के तहत बीमा कवर उसी वर्ष के 1 जून से शुरू होगा और अगले वर्ष 31 मई तक होगा । PMJJBY  में बीमा खरीदने के लिए किसी मेडिकल जांच की जरूरत नहीं है । 

  • एलआईसी/बीमा कंपनी को बीमा प्रीमियम- 289/- रुपये
  • बीसी/माइक्रो/कॉर्पोरेट/एजेंट के लिए व्यय की प्रतिपूर्ति- 30/- रुपये
  • भाग लेने वाले बैंक के प्रशासनिक शुल्क का प्रतिपूर्ति- 11/- रुपये
  • कुल प्रीमियम (Total Premium)- केवल 330/- रुपये

PMJJBY Highlights

योजना का नामप्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के नागरिक
उद्देश्यपॉलिसी बीमा प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.jansuraksha.gov.in

जाने क्यों कट रहे हैं आपके खाते से ₹330

बैंकों द्वारा कई नागरिकों के खाते से ₹330 का डेबिट किया गया है। यह डेबिट मई के महीने में प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत पंजीकृत नागरिकों के खाते से किया गया है। हर साल इस योजना का नवीकरण 1 जून को किया जाता है और बैंकों द्वारा नवीकरण के लिए प्रीमियम की राशि मई के महीने में डेबिट की जाती है। यदि लाभार्थी के 1 से ज्यादा खाते हैं और प्रीमियम की राशि एक से ज्यादा खातों से काट ली गई है तो इस स्थिति में आप अपने बैंक से शुल्क को वापस करने के लिए अनुरोध कर सकते है। इस योजना का लाभ 1 साल के लिए उठाया जा सकता है।

  • यदि लाभार्थी 1 साल के बाद इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहता है तो उनको निविकरण करवाना अनिवार्य होगा। इस योजना का लाभ 18 से 50 वर्ष तक के नागरिक जिनके पास बचत खाता है उठा सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ऑटो डेबिट फीचर लागू करना अनिवार्य होगा। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की अवधि 1 जून से 31 मई तक होती है।
  • बैंकों द्वारा कई बार अनुस्मारक एसएमएस या ईमेल के माध्यम से भी भेजा जाता है। यह अनुस्मारक इसलिए भेजा जाता है। क्योंकि इस योजना के अंतर्गत ऑटो डेबिट नवीकरण होता है। खाताधारक को यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि उसके खाते में समय से ₹330 की राशि उपलब्ध हो।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि कोविड संक्रमण के कारण मृत्यु हुई तो इन शर्तों का पालन करके उठाएं योजना का लाभ

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक प्रकार की जीवन बीमा योजना है। जिसके माध्यम से मृत्यु होने पर नॉमिनी को ₹200000 की राशि प्रदान की जाती है। वह सभी नागरिक जिनके परिवार के किसी सदस्य की मौत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण या फिर किसी और कारण से हुई है और वह सदस्य इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत था तो वह ₹200000 तक की बीमा राशि प्राप्त करने योग्य है। इस योजना का लाभ वह तभी उठा पाएगा जब पॉलिसी धारक ने 2020-21 में यह पॉलिसी खरीदी है।

इस पॉलिसी को खरीदने के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 55 वर्ष है। Jeevan Jyoti Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए सेविंग बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और सेविंग बैंक अकाउंट ऑटो डेबिट के लिए अपनी सहमति देनी अनिवार्य हैं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ₹330 के प्रीमियम का प्रतिवर्ष भुगतान करना अनिवार्य होता है।

45 दिनों के बाद ही होगा जोखिम कवर लागू

वे सभी नागरिक जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह पात्रता की शर्तें चेक करके इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। यदि आप पहले से इस योजना के अंतर्गत नामांकित हैं तो आपको प्रतिवर्ष दोबारा से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिवर्ष आपके बैंक खाते से प्रीमियम की राशि काट ली जाएगी और आपका निवीकरण कर दिया जाएगा। सभी नए खरीदार इस योजना के अंतर्गत नामांकन के पहले 45 दिन तक क्लेम नहीं कर सकते। 45 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ही क्लेम किया जा सकता है। पहले 45 दिनों में कंपनी द्वारा किसी भी दावे का निपटान नहीं किया जाएगा। लेकिन यदि आवेदक की मृत्यु किसी दुर्घटना के कारण होती है तो इस स्थिति में आवेदक को भुगतान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना स्टैटिसटिक्स

वित्तीय वर्षपंजीकृत नागरिकों की संख्याप्राप्त दावों की कुल संख्यावितरित दावों की कुल संख्या
2016-173.1062,16659,188
2017-185.3398,16389,708
2018-195.921,45,7631,35,212
2019-206.961,90,1751,78,189
2020-2110.272,50,3512,34,905

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना निकास

कोई भी व्यक्ति जो Jeevan Jyoti Bima Yojana से निकास कर चुका हो वह इस स्कीम को दोबारा से ज्वाइन कर सकता है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना को दोबारा से ज्वाइन करने के लिए प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा और एक स्वास्थ्य से संबंधित सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करना होगा। प्रीमियम का भुगतान करके तथा सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करके कोई भी व्यक्ति इस योजना में दोबारा से एंड्रोल कर सकता है।

किन स्थितियों में नहीं प्रदान किया जाएगा इस योजना का लाभ

  • यदि लाभार्थी का बैंक में खाता बंद हो गया है।
  • बैंक खाते में प्रीमियम की राशि ना होने पर।
  • 55 साल की उम्र पूरी होने पर।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि कोविड संक्रमण के कारण मृत्यु हुई तो इन शर्तों का पालन करके उठाएं योजना का लाभ

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक प्रकार की जीवन बीमा योजना है। जिसके माध्यम से मृत्यु होने पर नॉमिनी को ₹200000 की राशि प्रदान की जाती है। वह सभी नागरिक जिनके परिवार के किसी सदस्य की मौत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण या फिर किसी और कारण से हुई है और वह सदस्य इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत था तो वह ₹200000 तक की बीमा राशि प्राप्त करने योग्य है। इस योजना का लाभ वह तभी उठा पाएगा जब पॉलिसी धारक ने 2020-21 में यह पॉलिसी खरीदी है।

इस पॉलिसी को खरीदने के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 55 वर्ष है। Jeevan Jyoti Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए सेविंग बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और सेविंग बैंक अकाउंट ऑटो डेबिट के लिए अपनी सहमति देनी अनिवार्य हैं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ₹330 के प्रीमियम का प्रतिवर्ष भुगतान करना अनिवार्य होता है।

45 दिनों के बाद ही होगा जोखिम कवर लागू

वे सभी नागरिक जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह पात्रता की शर्तें चेक करके इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। यदि आप पहले से इस योजना के अंतर्गत नामांकित हैं तो आपको प्रतिवर्ष दोबारा से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिवर्ष आपके बैंक खाते से प्रीमियम की राशि काट ली जाएगी और आपका निवीकरण कर दिया जाएगा। सभी नए खरीदार इस योजना के अंतर्गत नामांकन के पहले 45 दिन तक क्लेम नहीं कर सकते। 45 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ही क्लेम किया जा सकता है। पहले 45 दिनों में कंपनी द्वारा किसी भी दावे का निपटान नहीं किया जाएगा। लेकिन यदि आवेदक की मृत्यु किसी दुर्घटना के कारण होती है तो इस स्थिति में आवेदक को भुगतान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना निकास

कोई भी व्यक्ति जो Jeevan Jyoti Bima Yojana से निकास कर चुका हो वह इस स्कीम को दोबारा से ज्वाइन कर सकता है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना को दोबारा से ज्वाइन करने के लिए प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा और एक स्वास्थ्य से संबंधित सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करना होगा। प्रीमियम का भुगतान करके तथा सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करके कोई भी व्यक्ति इस योजना में दोबारा से एंड्रोल कर सकता है।

किन स्थितियों में नहीं प्रदान किया जाएगा इस योजना का लाभ

  • यदि लाभार्थी का बैंक में खाता बंद हो गया है।
  • बैंक खाते में प्रीमियम की राशि ना होने पर।
  • 55 साल की उम्र पूरी होने पर।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि कोविड संक्रमण के कारण मृत्यु हुई तो इन शर्तों का पालन करके उठाएं योजना का लाभ

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक प्रकार की जीवन बीमा योजना है। जिसके माध्यम से मृत्यु होने पर नॉमिनी को ₹200000 की राशि प्रदान की जाती है। वह सभी नागरिक जिनके परिवार के किसी सदस्य की मौत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण या फिर किसी और कारण से हुई है और वह सदस्य इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत था तो वह ₹200000 तक की बीमा राशि प्राप्त करने योग्य है। इस योजना का लाभ वह तभी उठा पाएगा जब पॉलिसी धारक ने 2020-21 में यह पॉलिसी खरीदी है।

इस पॉलिसी को खरीदने के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 55 वर्ष है। Jeevan Jyoti Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए सेविंग बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और सेविंग बैंक अकाउंट ऑटो डेबिट के लिए अपनी सहमति देनी अनिवार्य हैं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ₹330 के प्रीमियम का प्रतिवर्ष भुगतान करना अनिवार्य होता है।

45 दिनों के बाद ही होगा जोखिम कवर लागू

वे सभी नागरिक जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह पात्रता की शर्तें चेक करके इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। यदि आप पहले से इस योजना के अंतर्गत नामांकित हैं तो आपको प्रतिवर्ष दोबारा से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिवर्ष आपके बैंक खाते से प्रीमियम की राशि काट ली जाएगी और आपका निवीकरण कर दिया जाएगा। सभी नए खरीदार इस योजना के अंतर्गत नामांकन के पहले 45 दिन तक क्लेम नहीं कर सकते। 45 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ही क्लेम किया जा सकता है। पहले 45 दिनों में कंपनी द्वारा किसी भी दावे का निपटान नहीं किया जाएगा। लेकिन यदि आवेदक की मृत्यु किसी दुर्घटना के कारण होती है तो इस स्थिति में आवेदक को भुगतान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना निकास

कोई भी व्यक्ति जो Jeevan Jyoti Bima Yojana से निकास कर चुका हो वह इस स्कीम को दोबारा से ज्वाइन कर सकता है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना को दोबारा से ज्वाइन करने के लिए प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा और एक स्वास्थ्य से संबंधित सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करना होगा। प्रीमियम का भुगतान करके तथा सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करके कोई भी व्यक्ति इस योजना में दोबारा से एंड्रोल कर सकता है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

यदि कोविड संक्रमण के कारण मृत्यु हुई तो इन शर्तों का पालन करके उठाएं योजना का लाभ
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक प्रकार की जीवन बीमा योजना है। जिसके माध्यम से मृत्यु होने पर नॉमिनी को ₹200000 की राशि प्रदान की जाती है। वह सभी नागरिक जिनके परिवार के किसी सदस्य की मौत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण या फिर किसी और कारण से हुई है और वह सदस्य इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत था तो वह ₹200000 तक की बीमा राशि प्राप्त करने योग्य है। इस योजना का लाभ वह तभी उठा पाएगा जब पॉलिसी धारक ने 2020-21 में यह पॉलिसी खरीदी है।

इस पॉलिसी को खरीदने के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 55 वर्ष है। Jeevan Jyoti Bima Yojana का लाभ उठाने के लिए सेविंग बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और सेविंग बैंक अकाउंट ऑटो डेबिट के लिए अपनी सहमति देनी अनिवार्य हैं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए ₹330 के प्रीमियम का प्रतिवर्ष भुगतान करना अनिवार्य होता है।

45 दिनों के बाद ही होगा जोखिम कवर लागू
वे सभी नागरिक जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह पात्रता की शर्तें चेक करके इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं। यदि आप पहले से इस योजना के अंतर्गत नामांकित हैं तो आपको प्रतिवर्ष दोबारा से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिवर्ष आपके बैंक खाते से प्रीमियम की राशि काट ली जाएगी और आपका निवीकरण कर दिया जाएगा। सभी नए खरीदार इस योजना के अंतर्गत नामांकन के पहले 45 दिन तक क्लेम नहीं कर सकते। 45 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ही क्लेम किया जा सकता है। पहले 45 दिनों में कंपनी द्वारा किसी भी दावे का निपटान नहीं किया जाएगा। लेकिन यदि आवेदक की मृत्यु किसी दुर्घटना के कारण होती है तो इस स्थिति में आवेदक को भुगतान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना स्टैटिसटिक्स
वित्तीय वर्ष पंजीकृत नागरिकों की संख्या प्राप्त दावों की कुल संख्या वितरित दावों की कुल संख्या
2016-17 3.10 62,166 59,188
2017-18 5.33 98,163 89,708
2018-19 5.92 1,45,763 1,35,212
2019-20 6.96 1,90,175 1,78,189
2020-21 10.27 2,50,351 2,34,905
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना निकास
कोई भी व्यक्ति जो Jeevan Jyoti Bima Yojana से निकास कर चुका हो वह इस स्कीम को दोबारा से ज्वाइन कर सकता है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना को दोबारा से ज्वाइन करने के लिए प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा और एक स्वास्थ्य से संबंधित सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करना होगा। प्रीमियम का भुगतान करके तथा सेल्फ डिक्लेरेशन जमा करके कोई भी व्यक्ति इस योजना में दोबारा से एंड्रोल कर सकता है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

भारत की जनसंख्या 138 करोड़ से अधिक है, यह एक विशाल देश है, जहां असीमित सम्भावनाएं हैं। इसमें से लगभग 72 प्रतिशत जनसंख्या गांवों में रहती है। वित्तीय समावेशन का अभाव आज देश के सामने एक बहुत बड़ी चुनौती है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक सरकारी सामाजिक सुरक्षा योजना है, जो इसी दिशा में उठाया गया एक कदम है।

वित्तीय समावेशन का अर्थ यह सुनिश्चित करना है कि समाज में हर व्यक्ति के पास बैंकिंग सेवाएं एवं वित्तीय समाधान उपलब्ध हों, भले ही उसकी आयु, लिंग या वित्तीय स्थिति चाहे जो भी हो। इसका लक्ष्य है कि भारत की प्रगति का लाभ समाज के हर व्यक्ति तक किसी भेदभाव के बिना पहुंचाया जाए। भारत के बहुत से घरों में एक बचत खाता या बैकिंग एवं वित्तीय सेवाओं की उपलब्धता नहीं है। वित्तीय समावेशन एक प्रक्रिया है, जिसका यह उद्देश्य है कि लोगों के आर्थिक अधिकारों एवं जिम्मेदारियों के बारे में जागरूकता फैलायी जाए तथा सभी लोगों को उनकी जरूरत की सेवा एवं समाधान प्रदान किए जाएं।

अधिकांश बैंकों में बचत खाते खोलने या अन्य बैंकिंग सुविधाओं का लाभ लेने से पहले आपको विशिष्ट मानदण्ड पूरे करने होते हैं। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना जैसी वित्तीय समावेशन पहलों का उद्देश्य है कि ऐसे समाधान बनाए जाएं जिनसे ये बाधाएं दूर हो सकें, ताकि समाज के सभी वर्गों को सामाजिक सुरक्षा मिल सके।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई पॉलिसी) की घोषणा बजट 2015 में की गई थी, यह भारत सरकार द्वारा समर्थित भारतीय जीवन बीमा योजना है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में प्रत्येक वर्ष नवीनीकरण करवाना होता है, इस योजना में आपको वार्षिक लाइफ कवरेज मिलता है तथा बीमा कवर के दौरान पॉलिसीधारक की मृत्यु की स्थिति में रु 2,00,000 धनराशि का निश्चित मृत्यु लाभ मिलता है।

लोगों तक प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना तथा इसके दूसरे वैरियेंट पहुंचाने के लिए भारत की विभिन्न जीवन बीमा कम्पनियों ने बैंकिंग संस्थानों के साथ गठबंधन किया है ताकि सभी लोगों तक पीएमजेजेबीवाई कवरेज को सदृश शर्तों पर पहुंचाया जा सके।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का उद्देश्य ऐसे सभी बैंकिंग ग्राहकों तक बीमा पहुंचाना है, जिनके पास एक बचत बैंक खाता है। बैंक प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा के अन्तर्गत मास्टर पॉलिसीधारक के रूप में कार्य करते हैं, यह समूह बीमा योजना ऐसे बैंकों के लिए परफेक्ट है जो अपने मौजूदा एवं नए ग्राहकों को उचित फिक्स्ड रेट पर लाइफ कवर प्रदान करना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की क्या विशेषताएं हैं?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक नॉन-लिंक्ड, गैर-प्रतिभागी, वार्षिक नवीकरणीय समूह सुरक्षा योजना है, बैंक के ग्राहकों के समूह को प्रदान किया जाता है, जिनके पास बचत बैंक खाता होता है।

जीवन के बारे में एक चीज निश्चित है कि आप एवं आपके प्रियजनों के समक्ष बहुत से अनिश्चितताएं आएंगी, जिसे दृष्टिगत रखते हुए आपको अपने कल्याण एवं प्रसन्नता के लिए अग्रिम में योजना बनानी पड़ेगी। किसी भी वयस्क व्यक्ति की यह प्रमुख जिम्मेदारी है कि वे अपने प्रियजनों की वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करें, विशेष रूप से यदि आप अपने घर के प्रमुख धनोपार्जक हैं। किसी अप्रिय स्थिति में, आपका परिवार एक ऐसी दुखद स्थिति में नहीं होना चाहिए जहां उसे सोचना पड़े कि दायित्वों को कैसे पूरा किया जाए तथा उनके सपनों को कैसे जिंदा रखा जाए। अपने परिवार की वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने का सबसे उचित तरीका यह है कि आप पर्याप्त कवरेज वाली एक जीवन बीमा पॉलिसी लें।

इंडियाफर्स्ट लाइफ द्वारा ऑफर की जाने वाली पीएमजेजेबीवाई बीमा योजना एक समूह बीमा प्लान के रूप में कार्य करती है, तथा मास्टर पॉलिसीधारक के समूह में सभी सदस्यों को विशुद्ध सुरक्षा लाभ प्रदान करती है। एक व्यक्ति-विशेष विशुद्ध सुरक्षा पॉलिसी में व्यक्ति ही पॉलिसी धारक एवं बीमित होता है। पॉलिसी की अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की असामयिक मृत्यु की स्थिति में पॉलिसी प्रलेख में वर्णित लाभार्थियों को मृत्यु लाभ के रूप में बीमाधन मिलता है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के मामले में, प्रदान की जाने वाली पीएमजेजेबीवाई कवरेज, समूह बीमा कवरेज है। एक ग्रुप इंश्योरेंस टर्म प्लान में चुनी गई जीवन बीमा योजना – एक ही पॉलिसी संविदा के अन्तर्गत लोगों के एक पूरे समूह को कवर करती है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा के अन्तर्गत जो बैंक या वित्तीय संस्थान अपने ग्राहकों के जीवन की सुरक्षा करना चुनता है, उसे मास्टर पॉलिसीधारक कहते हैं। साथ ही, प्रतिभागी वित्तीय संस्थान में जो लोग अपने बैंक खाते रखते हैं, उन्हें सदस्य कहा जाता है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की प्रमुख विशेषताएं
पॉलिसीधारक, अर्थात बैंक या वित्तीय संस्थान के लिए:

अब आप प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत अपने सभी ग्राहकों को एक उचित निश्चित दर पर लाइफ कवर प्रदान कर सकते हैं।
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना आपको पीएमजेजेबीवाई योजना वर्ष के दौरान नए सदस्य जोड़ने की फ्लेक्सिबिलिटी प्रदान करती है।
सदस्यों अर्थात प्रतिभागी बैंक में बचत बैंक खाता धारकों के लिए:

अब आपके पास यह अवसर है कि आप इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत एक बहुत ही कम दर पर लाइफ कवर पा सकते हैं।
सदस्य / बीमित व्यक्ति की मृत्यु की अप्रिय घटना की स्थिति में, पीएमजेजेबीवाई योजना के अन्तर्गत उनके नामिती / एप्वाइंटी / विधिक उत्तराधिकारी को रु 2 लाख का भुगतान किया जाएगा।
आप आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी के अन्तर्गत भुगतान किए गए सभी प्रीमियम पर कर लाभ पा सकते हैं।
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना कैसे कार्य करती है?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक ग्रुप प्रोटेक्शन प्लान के रूप में आपको रु 2 लाख का निश्चित कवर विकल्प प्रदान करती है। इंडियाफर्स्ट लाइफ पीएमजेजेबीवाई प्लान में नामांकित सभी सदस्यों को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत एक-बराबर धनराशि का रिस्क कवर मिलेगा। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक वार्षिक नवीकरणीय योजना है, यह पीएमजेजेबीवाई प्लान जारी किए जाने की तिथि से एक वर्ष के अंदर समूह के सभी सदस्यों को पीएमजेजेबीवाई कवरेज प्रदान करती है।

कौन से लोग इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में शामिल हो सकते हैं?

इंडियाफर्स्ट लाइफ द्वारा प्रदान किए जाने वाले प्रधानमंत्री बीमा योजना में एक मास्टर पॉलिसीधारक एवं समूह सदस्य शामिल होते हैं।
मास्टर पॉलिसीधारक बैंक या वित्तीय संस्थान होता है, जो अपने ग्राहकों या सदस्यों के परिवारों को जीवन की अनिश्चितताओं से बचाने के लिए उन्हें पीएमजेजेबीवाई बीमा कवर प्रदान करता है। मास्टर पॉलिसीधारक उसे कहते हैं, जो पीएमजेजेबीवाई योजना को होल्ड एवं ऑपरेट करता है।
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत समूह के सदस्यों का जीवन कवर्ड रहता है। पीएमजेजेबीवाई कवरेज द्वारा गारंटीड मृत्यु लाभ का भुगतान, प्रतिभागी सदस्य की मृत्यु होने पर किया जाता है। पहली बार कवर हेतु आवेदन करने के समय सदस्य के पास एक बचत बैंक खाता होना चाहिए तथा 18 से 50 वर्ष के बीच का कोई भी व्यक्ति हो सकता है।
यदि किसी व्यक्ति के पास एक या अधिक बैंकों में एक से अधिक बचत खाते हैं, तो वे केवल किसी एक ही बैंक खाते के माध्यम से पीएमजेजेबीवाई प्लान में शामिल होने के लिए पात्र होते हैं।
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत कौन से प्रीमियम विकल्प हैं?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक एकल प्रीमियम भुगतान प्लान है, जिसका अर्थ है कि आपको वर्ष में केवल एक ही बार पीएमजेजेबीवाई इंश्योरेंस कवर हेतु भुगतान करना होता है, ताकि आप नवीकरण तक पूरे टर्म के प्लान के लाभ उठा सकें।

समूह सदस्य अथवा बचत बैंक खाताधारकों को रु 330 प्रति वर्ष के वार्षिक न्यूनतम प्रीमियम दर समेत अनुप्रयोज्य कर, उपकर या प्रभार पर पीएमजेजेबीवाई इंश्योरेंस कवर मिलता है। मास्टर पॉलिसीधारक या बैंक द्वारा बीमा कम्पनी को प्रीमियम का भुगतान किया जाता है, तथा बैंक इस पीएमजेजेबीवाई प्लान प्रीमियम की स्वत:-कटौती सदस्य के बैंक खाते एक बार में करता है।

सदस्यों को योजना वर्ष की विशिष्ट अवधि के दौरान ही इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में शामिल होने की सुविधा होती है। पीएमजेजेबीवाई पॉलिसी के अन्तर्गत प्रदान की जाने वाली कवरेज, एक पूर्व-निर्धारित आरम्भ एवं अंत तिथि तथा एक निश्चित प्रीमियम दर पर एक वर्ष की निश्चित अवधि के लिए होगी।

यदि कोई सदस्य योजना वर्ष के दौरान इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में शामिल होना चाहता है, तो पीएमजेजेबीवाई कवरेज आरम्भ होने की घोषणा से तीन महीनों के अंदर प्रॉस्पेक्टिव कवर के लिए विलम्बित नामांकन सम्भव होगा। उसके बार शामिल होने वाले लोगों को इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत फ्यूचर कवर के लिए पूरे वार्षिक प्रीमियम का भुगतान करना होगा, साथ ही अच्छे स्वास्थ्य का स्व-प्रमाणन भी सबमिट करना होगा।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत किस प्रकार के क्लेम कवर किए जाते हैं?

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत कोई एक्सक्ल्यूजन नहीं है। इसका अर्थ यह है कि रिस्क कवर आरम्भ होने के बाद समूह सदस्य की मृत्यु चाहे जिस कारण से हो, उसके दावे को वैध माना जाएगा। किसी भी कारण से बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने पर, पीएमजेजेबीवाई इंश्योरेंस कवर में पॉलिसी के नामित / लाभार्थियों को रु 2,00,000 का मृत्यु लाभ प्रदान किया जाता है।

पीएमजेजेबीवाई सदस्य को वार्षिक लाइफ कवर प्रदान करता है, तथा बीमित व्यक्ति की दुर्भाग्यवश मृत्यु की स्थिति में नामिती को एक मृत्यु लाभ प्रदान करता है। नामिती को प्रदान की जाने वाली पीएमजेजेबीवाई कवरेज राशि कर-मुक्त होती है। वित्तीय समावेशन के लक्ष्य के प्रति प्रतिबद्धता के रूप में, इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक तनाव-रहित एवं सरल क्लेम प्रक्रिया प्रदान करती है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के क्या लाभ हैं?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक वर्षीय विशुद्ध सुरक्षा जीवन बीमा पॉलिसी है, जिसका प्रत्येक वर्ष नवीकरण करवाया जा सकता है। पीएमजेजेबीवाई प्लान अन्तर्गत प्रदान किया जाने वाला प्राथमिक लाभ यह है कि पॉलिसीधारक की असामयिक मृत्यु की स्थिति में नामिती को मृत्यु कवरेज प्रदान किया जाए।

प्रधानमंत्री जीवन बीमा योजना एक विशुद्ध टर्म इंश्योरेंस प्लान है, जिसमें मृत्यु लाभ है। पीएमजेजेबीवाई प्लान के साथ कोई निवेश घटक नहीं जुड़ा है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक सरल एवं सीधा प्लान है, जो बचत बैंक खाताधारकों के लिए सरल कवरेज विकल्प प्रदान करता है।

बैंकों को अपने ग्राहकों हेतु इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना खरीदने पर क्यों विचार करना चाहिए?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना आपके मौजूदा एवं संभावित ग्राहकों को एक मूल्य-वर्द्धित सेवा प्रदान करने का एक शानदार तरीका प्रस्तुत करती है। पीएमजेजेबीवाई पॉलिसी आपको अपने ग्राहकों को यह दिखाने का अवसर प्रदान करती है कि आप उनके वित्तीय स्वास्थ्य स्वास्थ्य से लेकर उनके बैंक खाते सेवा से लेकर लाइफ रिस्क कवरेज तक का ख्याल रखते हैं। एक एकल संविदा के साथ आप आसानी से अपने सभी बचत बैंक खाता धारकों को वहनीय वित्तीय सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं।
एक उपभोक्तावादी दुनिया में ग्राहकों को केवल आकर्षित करना ही पर्याप्त नहीं है; आपको उन्हें अपनी ओर आकर्षित करने के लिए भी काम करना होता है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक ग्राहक प्रतिधारण टूल के रूप में काम करता है।
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना से सदस्यों को किस प्रकार से लाभ मिलता है?

इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्लान में नामांकित प्रत्येक सदस्य को एक बहुत ही कम दाम पर मानकीकृत जोखिम कवरेज प्रदान करती है।
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में किसी भी प्रकार का कोई भी एक्सक्ल्यूजन नहीं है, आत्महत्या भी नहीं। पीएमजेजेबीवाई में किसी भी कारण से होने वाली मृत्यु कवर्ड है।
किसी भी अन्य प्योर प्रोटेक्शन टर्म प्लान में आपके प्रीमियम रेट का निर्धारण करने में आपकी आयु एक महत्वपूर्ण कारक होती है। परन्तु पीएमजेजेबीवाई इंश्योरेंस कवर के अन्तर्गत आपकी प्रीमियम राशि पर आपकी आयु का कोई भी असर नहीं होता। इसमें एकमात्र आयु मानदण्ड यह है कि नामांकन के समय खाताधारक की आयु 18 से 50 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में नामिती को एक निश्चित प्रीमियम पर रु 2,00,000 के मृत्यु लाभ के रूप में एक निश्चित कवरेज मिलती है।
यदि आप इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना की वार्षिक आरम्भ तिथि से चूक भी जाते हैं, तो भी आप अपनी ज्वॉइनिंग तिथि के अनुसार निर्धारित किए गए समानुपातिक प्रीमियम का भुगतान करके नामांकन कर सकते हैं।
पीएमजेजेबीवाई में सहभागिता पूर्णतया स्वैच्छिक है।
मास्टर पॉलिसीधारक / बैंक द्वारा बीमा कम्पनी को संचयी समूह बीमा प्रीमियम का भुगतान किया जाता है, इसके लिए सदस्य के बैंक खाते से धनराशि की कटौती की जाती है। इसमें मास्टर पॉलिसीधारक के लिए कोई कर कटौती अनुप्रयोज्य नहीं होती है। वैसे, समूह सदस्य आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी के अन्तर्गत कटौतियां क्लेम कर सकते हैं। इसमें नामिती को मिलने वाला रु 2,00,000 का मृत्यु लाभ भी आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 10 (10डी) के अन्तर्गत कर-मुक्त होता है। ये चीजें सरकार के कर कानूनों के अनुसार समय-समय पर बदलती रहती हैं।
आपको इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना क्यों चुनना चाहिए?

इसमें आपके पास एक किफायती मानक दर पर जीवन बीमा सुरक्षा प्राप्त करने का अवसर है।
यह पॉलिसी किसी अप्रत्याशित घटना की स्थिति में आपके परिवार को रु 2,00,000 का लाइफ कवर प्रदान करती है और आपके परिवार को सुरक्षित रखती है।
इसमें न्यूनतम कागजी कार्रवाई वाली सरल प्रक्रिया होती है, और आपके समय की बचत होती है।
इसे आप “काउंटर पर खरीद” सकते हैं, और अपने परिवार की सुरक्षा कर सकते हैं।
इसमें आपके बैंक खाते से प्रीमियम की धनराशि को ऑटोमैटिकली डेबिट करने और पॉलिसी रिन्यू करने की सुविधा उपलब्ध है।
इस पॉलिसी के अन्तर्गत आप वर्तमान आयकर नियमों के अनुसार धारा 80 सी और धारा 10 (10डी) का लाभ उठा सकते हैं।
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के लिए कौन से पात्रता मानदण्ड हैं?

सदस्य, पीएमजेजेबीवाई प्लान के अन्तर्गत बीमित व्यक्ति होता है। इसमें प्रवेश की न्यूनतम आयु पिछले जन्मदिवस को 18 वर्ष है।
पीएमजेजेबीवाई बीमा योजना के अन्तर्गत प्रवेश की अधिकतम आयु निकटतम जन्मदिवस पर 50 वर्ष है।
प्रधानमंत्री बीमा के अन्तर्गत परिपक्वता पर अधिकतम आयु निकटतम जन्मदिवस पर 55 वर्ष है।
न्यूनतम 50 लोगों के समूह को पीएमजेजेबीवाई कवर प्रदान किया जा सकता है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत समूह के अधिकतम आकार की कोई सीमा नहीं है।
पीएमजेजेबीवाई इंश्योरेंस कवर में रु 2,00,000 का एक निश्चित रिस्क कवर है। इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत सभी सदस्यों के लिए एकसमान शर्तें होती हैं
इंडियाफर्स्ट लाइफ प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत कोई परिपक्वता या उत्तरजीविता लाभ देय नहीं होते हैं
पीएमजेजेबीवाई प्लान के अन्तर्गत, प्रतिभागी बैंक में खाताधारक के बचत खाते से प्रीमियम धनराशि की स्वत:-कटौती की जाएगी।
पीएमजेजेबीवाई कवरेज का लाभ उठाने के लिए, सदस्य के आधार कार्ड को प्रतिभागी बैंक के खाते से लिंक किया जाएगा।
धारणाधिकार अवधि (लिएन पीरियड) (पॉलिसी आरम्भ होने से पहले का समय) प्रधानमंत्री जीवन बीमा योजना में नामांकन की तिथि से 45 दिन है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.