Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana 2022

Rate this post

Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana 2022 Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana Road Width, Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana Was Launched In, Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana Pdf, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना Pdf 2022, प्रधानमंत्री सड़क योजना कितने रोड का टेंडर हुआ, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना ऑनलाइन, पीएमजीएसवाई उत्तराखंड, Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana Complaint.

Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana 2022

ग्रामीण इलाकों को शहरों तक रोड प्रदान करने हेतु भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से 500 या उससे अधिक आबादी वाले गांव को शहरों से सीधे जुड़ने के लिए सड़क मुहैया कराई जाएगी। आज हम आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 2022 से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे जैसे कि Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana क्या है? उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं ,पात्रता ,महत्वपूर्ण दस्तावेज़ आदि से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारा आर्टिकल विस्तार पूर्वक पढ़ना होगा ।

इस योजना की शुरुआत 25 दिसंबर 2020 को भारत सरकार द्वारा की गई थी। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि 500 से अधिक आबादी वाले गांवों को सीधा शहरी क्षेत्रों से जोड़ा जा सके। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा गांव से लेकर शहरों तक सीधी सड़कें बनाई जाएंगी और साथ ही साथ उन सड़कों का अच्छी तरीके से ध्यान रखा जाएगा। Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि गांव के किसान सड़कों की मदद से शहरों से जुड़ सकें और अपनी फसलों को आसान तरीके से बेच सकें। 

  • PMGSY की सहायता से शहरों और गांवों में सड़क पहुंचाई जाएगी।
  • शहरों और गांवों की सड़कों की कनेक्टिविटी से आर्थिक और सामाजिक सहायता भी दी जाएंगी।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से छोटे किसान शहरों से सीधे जुड़ पाएंगे और अपनी फसल भी बेच पाएंगे।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की संक्षिप्त जानकारी / विवरण

योजना का नाम प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 
योजना की शुरुआत सन 2000 ईस्वी
योजना के तीसरे चरण की शुरुआत2019
योजना का उद्देश्यदेश के सभी गाँवों को पक्की सड़क से जोड़ना।
योजना की शुरुआत किसने की भारत के पूर्व PM स्व. अटल बिहारी वाजपेयी जी द्वारा।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के उद्देश्य 

  • इस योजना के तहत देश के सभी गावों को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से जोड़ना है। गाँव से सटे सभी मुख्य शहरों को ग्रामीण सड़क परियोजना के तहत जोड़ा गया है / जा रहा है।
  • जिन गाँवों मे पहले से ही सड़क बनी हुई है, उन गाँवों मे बनी सडको को मरम्मत की आवश्यता होगी तो उनकी मरम्मत करवाई जाती है।
  • इस योजना के तहत देश के लगभग सभी इलाकों मे पक्की सड़क बनाना और उनका मरम्मत करना है। 
  • इस योजना के तहत देश का हर गाँव, शहर, जिला और राज्य एक दूसरी सड़क से जोड़ा जा रहा है। 
  • सभी गाँवों और शहरों को जोड़ने के लिए इस योजना कोई शुरुआत की गई है।

PM ग्रामीण सड़क योजना का लाभ 

  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत देश के सभी दुरस्त ग्रामीण क्षेत्रों तक सड़क का निर्माण किया जा रहा है।
  • pmgsy Scheme के द्वारा देश के सभी अस्पतालों, स्कूलों व अन्य महत्वपूर्ण स्थानों को आपस मे जोड़ा जा रहा है।
  • लोगों के समय में बचत होगी, उन्हें दुरस्त ग्रामीण क्षेत्रों से शहर तक पहुंचने में काफी कम समय लगेगा।
  • गावों तक पक्की सड़क बन जाने से आवागमन की सुविधा अच्छी हो जाएगी।
  • ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत पुरानी सड़कों का पुननिर्माण व यदि सड़क बनने के 5 वर्ष के अंदर टूटती है, तो उनकी मरम्मत का प्रावधान किया गया है।
  • 2000 में शुरू हुई प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से अब तक काफी गावों को सडकों से जोड़ा जा चूका है। लेकिन अब इसके इस चरण में बचे हुए ऐसे गांव जहां अभी तक सड़क नहीं पहुंची है। उन्हें सड़क नेटवर्क से जोड़ा जायेगा।
  • इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत देश के मैदानी क्षेत्रों मे लगभग 150 मीटर तक लंबे पुल एवं वही इसके अलावा देश मे हिमालय तथा पूर्वोत्तर राज्यों मे 200 मीटर तक लंबे और मजबूत पुलों का निर्माण किया जाएगा।
  • इस ग्रामीण इलाकों मे बनने वाली इस सड़क से शहरों को जोड़ा जाएगा।
  • इस योजना के तहत बनने वाली सड़को रोड क्रोस और ब्रिज भी बनायें जायेंगे।
  • इसके अलावा जिन गाँवों मे पहले से सड़क बनी हुई है और उन सडको मे मरम्मत की आवश्यकता है तो ऐसे मे उन सड़कों की मरम्मत की जायेगी।
  • इस योजना के तहत देश मे ग्रामीण और शहरी सड़कों पर सड़क नेटवर्क स्थापित किया जाएगा।

Account Login

  • ईमेल आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल करके अकाउंट को लॉगइन करने के बाद Add Feedback का ऑप्शन दिखाई देता है। इस ऑप्शन में कंप्लेंट करने वाला व्यक्ति सड़क की फोटो अपलोड कर सकता है, सड़क के बारे में कंप्लेंट लिख सकता है।
  • फोटो अपलोड एवं इंफॉर्मेशन लिखने के बाद Nextपर क्लिक करना होता है।
  • इसके बाद Feedback Areaका विकल्प दिखाई देगा, इस विकल्प में उस एरिया की जानकारी देनी होती है, जहां पर सड़क खराब है।
  • एरिया की जानकारी भरने के पश्चात Next पर क्लिक करना होता है।
  • इसके उपरांत Feedback Remarkका विकल्प दिखाई देगा, इस विकल्प में सड़क से संबंधित मुख्य परेशानी के बारे में लिखना होता है।
  • यह सब लिखने के पश्चात जिले एवं राज्य का नाम विकल्प में लिखना होता है।
  • इसके बाद Nextपर क्लिक करने के बाद तीन विकल्प और दिखाई देंगे।
  • पहला विकल्प:- यदिजिस सड़क की कंप्लेंट दर्ज करवाई जा रही है, वह सड़क प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत बनाई गई है, तो आवेदक को PMGSY YES पर क्लिक करना होगा।
  • दूसरा विकल्प:-यदि जिस सड़क की कंप्लेंट दर्ज करवाई जा रही है, वह सड़क प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत नहीं बनाई गई, तो आवेदक को PMGSY NO पर क्लिक करना होगा।
  • तीसरा विकल्प:-यदि सड़क के बारे में जानकारी प्राप्त ना हो, तो आवेदक को PMGSY-DON’T KNOW पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चातरोड का नाम, गांव का नाम जैसी जानकारी भर के Update Feedback पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह सड़क संबंधी कंप्लेंट सरकार तक पहुंच जाएगीऔर सरकार उस सड़क की परेशानी को ठीक करने के लिए अधिकारियों को भेजेगी।
  • इसके अलावामोबाइल नंबर उपलब्ध करवाया गया है, जहां पर कॉल करके सही जानकारी देने के पश्चात कंप्लेंट दर्ज करवाई जा सकती है।
  • मोबाइल ऐप, मोबाइल नंबर के अलावा ऑफिशल वेबसाइट http://omms.nic.in/ पर जाकर कर भी कंप्लेंट दर्ज करवाई जा सकती है।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के लाभ

  • देश के सभी दुरुस्त ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क निर्माण किया जायेगा।
  • देश में सभी स्कूल, अस्पतालों तथा महत्वपूर्ण स्थानों को जोड़ा जायेगा।
  • जिससे लोगों के समय की बचत होंगी। अब लोगों को दूरस्त क्षेत्रों में पहुंचने में काफी कम समय लगेगा।
  • देश के गावों में पक्की सड़क मार्ग बनने से आवागमन की सुविधा बेहतर हो जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत पुरानी सड़क का पुनर्निर्माण तथा यही वह 5 वर्ष के अंतराल में क्षतिग्रस्थ हो जाती है, तो उसका मरम्मत का प्रावधान भी किया गया है।

PMGSY RURAL ROAD SAFETY

PMGSYand अन्य राज्य स्तरीय योजनाओं के तहत ग्रामीण सड़क नेटवर्क के विस्तार और उन्नयन के साथ और ग्रामीण आबादी के आय स्तर में वृद्धि के साथ, ग्रामीण सड़कों पर यातायात में तेजी देखी गई है। घरों के अधिशेष डिस्पोजेबल आय में वृद्धि और दोपहिया और कारों के लिए आसान वित्तीय ऋण, ग्रामीण क्षेत्रों में भी मोटर चालित वाहनों का स्वामित्व बढ़ रहा है।

इस तरह के सड़क विकास कार्यक्रमों के लिए एक नकारात्मक बाहरीता सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि का कारण बनती है, जिससे सड़क उपयोगकर्ताओं और ड्राइवरों को गंभीर चोटें आती हैं। इस तरह की दुर्घटनाओं से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से आर्थिक नुकसान होता है और इसके अलावा सभी को आघात भी पहुंचता है।

सड़क सुरक्षा एक बहु-अनुशासनात्मक गतिविधि है। इसमें सड़कों, पुलिस, परिवहन, स्वास्थ्य, बीमा, शैक्षणिक संस्थानों के साथ काम करने वाले विभागों द्वारा संयुक्त और मानार्थ इनपुट शामिल हैं। जनसंचार माध्यमों और स्थानीय समुदायों, नागरिक समाज और गैर-सरकारी संगठनों से भी समर्थन की आवश्यकता है।

एशियाई विकास बैंक के सहयोग से, NRIDA द्वारा एक ग्रामीण सड़क सुरक्षा मैनुअल तैयार किया गया है और सभी SRRDA को सुरक्षित ग्रामीण सड़कों के निर्माण के लिए परिचालित किया गया है। मैनुअल में दुर्घटना डेटा रिकॉर्ड, सुरक्षित सड़क डिजाइन, सड़क सुरक्षा ऑडिट चेकलिस्ट, सामुदायिक जागरूकता और शिक्षा पर मार्गदर्शन शामिल है।

पीआईयू, सलाहकार और अन्य हितधारकों के लिए सुझाव देने वाले प्रशिक्षण मॉड्यूल भी दिए गए हैं। केंद्रीय स्तर पर, इन मुद्दों को सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के साथ समन्वय के माध्यम से संबोधित किया जाएगा।

राज्य स्तर पर, राज्य स्तर पर राज्य गुणवत्ता समन्वयक और जिला स्तर पर DPIU के प्रमुख को राज्य सरकारों द्वारा सड़क सुरक्षा तंत्र और कार्यक्रमों के साथ समन्वय करने का कार्य सौंपा जाएगा, विशेष रूप से, राज्य सड़क सुरक्षा की सदस्यता के माध्यम से। परिषद और जिला सड़क सुरक्षा समितियाँ क्रमशः मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा 215 (1988 के अधिनियम संख्या 5) के प्रावधान के अनुसार बनाई गई हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.