Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 | मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022

Rate this post

Mukhyamantri Udyami Yojana 2022

जैसा की आप सभी जानते होंगे कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार अपने राज्य के सभी नागरिकों को सुविधाएं देने के लिए तरह-तरह की योजनाओं को जारी करते रहते है ऐसे ही एक योजना बिहार सरकार द्वारा शुरू की गयी है जिसका नाम है बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 . यह योजना राज्य के युवा नागरिकों के लिए बनायीं गयी है।

योजना के माध्यम से सरकार युवाओं को खुद का स्वरोजगार स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। अगर आप भी इस योजना का ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो आपको सबसे पहले अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से योजना की योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 को सरकार ने सभी अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST) श्रेणी के लोगों के लिए आरंभ किया है। योजना के तहत सरकार खुद का उद्योग स्थापित करने के लिए युवाओं को 10 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी। इसके माध्यम से इंडस्ट्री को प्रोत्साहन मिल पायेगा और SC एवं ST युवा बेरोजगार को रोजगार मिल सकेगा। जिससे वह अपना खुद का काम शुरू करके ओरो को भी रोजगार दे सकेंगे। योजना का लाभ राज्य की महिलाएं भी ले सकेंगी

चलिए आज हम आपको Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana से जुडी सभी जानकरियों जैसे: बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना क्या है, योजना से मिलने वाले लाभ, उद्देश्य, पात्रता, जाने आवश्यक दस्तावेज, ऐसे करें Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 का ऑनलाइन आवेदन आदि के बारे में बताने जा रहे है। यदि आप इससे जुडी अन्य जानकारियों भी जानना चाहते है तो आप हमारे द्वारा लिखे गए लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लिए सरकार ने 102 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। जिससे वह अपना रोजगार शुरू करके आत्मनिर्भर बन सकेंगे। इसी के साथ लाभार्थियों को 25 हजार रूपए ट्रेनिंग एवं प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग कमीटी की मदद के लिए दिए जायेंगे। योजना के जरिये हर साल 2.5 लाख महिला उद्यमी को खुद के रोजगार (यानी जिस क्षेत्र में उन्हें रूचि हो) को शुरू करने के लिए ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी ताकि वह अपने पैरो पर खड़े को सके और आत्मिर्भर बन सके।

योजना को शुरू करने का उद्देश्य

योजना को शुरू करने का उदेश्य राज्य में बेरोजगारी की समस्या को कर के नए उद्योग को बढ़ावा देना है। इसी के साथ SC/ST बेरोजगार युवाओं को आर्थिक सहायता राशि प्रदान करके उनका स्वयं का रोजगार शुरू करा कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है। युवाओं के साथ राज्य की महिलाएं भी सरकार द्वारा प्रदान की जा रही आर्थिक सहायता के जरिये अपने खुद का छोटा रोजगार शुरू कर सकते है। मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिये राज्य में अधिक उद्योग की स्थापना होगी जिससे रोजगार के अवसर प्रदान होंगे और बेरोजगारी कम होगी।

अभी तक योजना के तहत हुए 65000 आवेदन

Mukhyamantri Udyami Yojana के जरिये आवेदन करने वालो की वेटिंग लिस्ट 2 महीने के अंदर तैयार होकर जारी कर दी जाएगी। लिस्ट के मुताबित 65 हजार आवेदक होंगे। इसमें मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति-जनजाति उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना एवं मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना के तहत 200-200 नंबर्स में लाभार्थियों का सिलेक्शन किया जायेगा। जिसके बाद जितने भी आवेदक बच गए होंगे उन्हें वेटिंग लिस्ट में रखा जायेगा। बता देते है इस बात की खबर इंडस्ट्री डिपार्टमेंट ने दी है।

इसके अलावा कुछ सोर्सेज से ये भी जानकारी हासिल हुई है कि जितने भी लोग वेटिंग लिस्ट में शामिल किये जायेंगे उन्हें आने वाले फाइनेंसियल ईयर में सेलेक्ट कर लिया जायेगा। परन्तु अभी इस बारे में पूरी जानकारी विभाग द्वारा नहीं दी गयी है। बता देते है जितने भी लाभार्थी इस योजना के तहत सेलेक्ट किये जायेंगे उन्हें पहले ट्रेनिंग भी प्रदान की जाएगी। ताकि वह अपना उद्योग का और अच्छे से विकास कर सके।

मुख्यमंत्री बिहार युवा उद्यमी योजना

मुख्यमंत्री बिहार युवा उद्यमी योजना उद्यमियों (entrepreneurs) को प्रोत्साहित करने के लिए शुरू की गयी है। राज्य के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग के युवा नागरिकों को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है। इसके साथ इसका लाभ राज्य के अन्य श्रेणी के नागरिकों को भी दिया जायेगा। राज्य के सभी युवा नागरिक जिनकी आयु 18 से 50 साल है यह युवा उद्यमी योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है। इसके साथ ही योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों को 12वी, आईटीआई, पॉलिटेक्निक डिप्लोमा आदि होना चाहिए।

योजना के जरिये युवाओं को कुल 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। जिसमे उन्हें 5 लाख लोन के तौर पर मिलेंगे और 5 लाख सरकार अनुदान के रूप में उन्हें देगी। लोन राशि पर युवाओ को 1% ब्याज देना होगा। योजना का संचालन बार के उद्योग विभाग द्वारा किया जाता है।

बिहार मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना

राज्य की वह महिलाएं जो खुद से कुछ करना चाहती है और उद्योग के क्षेत्र में अपना स्वयं का रोजगार खोलना चाहती है ऐसी महिलाओं के लिए सरकार ने महिला उद्यमी योजना की शुरुवात की है। इस योजना के तहत महिलाओं को भी 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। बता देते है इसमें महिलाओं को 50% यानी कि 5 लाख रुपये का लोन बिना ब्याज के और 5 लाख रुपये अनुदान के तौर पर दिए जायेंगे। जिसमे महिलाओं को केवल 5 लाख रुपये की लौटने होंगे। सरकार द्वारा दिए गए लोन को 84 किस्तों में लौटना होगा।

योजना का लाभ उठाने के लिए महिला की आयु 18 से 50 साल के बीच होनी चाहिए। योजना का आवेदन केवल वही कर सकती है जिनके पास 12वी, आईटीआई, पॉलिटेक्निक डिप्लोमा आदि हो। इस योजना का लाभ केवल प्रोपरायटरशिप फर्म, पार्टनरशिप फर्म, LLP और प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के लिए इस योजना का लाभ मिल सकता है।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की विशेषताएं

  • बिहार सरकार द्वारा अनुसूचित जनजाति एवं अनुसूचित जाति वर्ग के नागरिकों को अपना खुद का उद्योग शुरू करने के लिए 10 लाख रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • Bihar Udyami Yojana केवल बिहार के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के नागरिकों के लिए हैं।
  • बिहार के पिछड़े वर्ग के नागरिक इस योजना के माध्यम से अपना खुद का व्यापार शुरू करेंगे तो बेरोज़गारो की संख्या में भी कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से बिहार के अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के नागरिक बैकरी उत्पाद, पशु आहार उत्पाद, फर्नीचर निर्माण एवं बीज ।
  • इस योजना के माध्यम से मिलने वाली धनराशि पर कोई ब्याज नहीं देना होगा।
  • Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana के अंतर्गत संबंधित क्षेत्र के युवा युक्तियों को परियोजना लागत का 50% यानी के अधिकतम ₹500000 प्रदान किया जाएगा जिसका भुगतान 7 वर्षों में युवा युक्तियों को अदा करना होगा।
  • योजना के अंतर्गत राशि का 50% अनुदान सब्सिडी देय होगा।
  • चयन के बाद लाभार्थियों को प्रशिक्षण के लिए ₹25000 की व्यवस्था मुहैया कराई जाएगी।
  • बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत केवल नए उद्योगों की स्थापना पर ही लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • साथ साथ बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति 2016 कल आप भी इस योजना के अंतर्गत देय होगा।

Benefits Of Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana

  • इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण एवं परियोजना निगरानी के लिए सरकार द्वारा 25 हजार रुपए दिए जाएंगे।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक की आयु 18 साल से  40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana का लाभ उठाने के लिए आवेदक को 12वीं पास, आईटीआई पॉलिटेक्निक या फिर समकक्ष उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के माध्यम से व्यापार शुरू होने के बाद ही आवेदक को भुगतान किस्त अदा करनी होगी।
  • इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के नागरिकों की आर्थिक स्थिति गुजरेगी एवं वह अपनी आजीविका कुशल रूप से चलाने मैं सक्षम हो जाएंगे।

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana Registration

इस योजना के तहत आवेदन करनी की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। राज्य के जो भी इच्छुक पुरुष और महिला योजना के तहत लोन राशि प्राप्त करना चाहते हैं। उन्हें बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 की अधिकारी वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा। अगर आप शुरू की गई वेप पोर्टल पर सही जानकारी दर्ज करते हैं तो आपको प्रोजेक्ट स्थापित कराने के लिए अवश्य ऋण प्रदान कराया जाएगा। योजना के तहत आवेदन करते समय गलत जानकारी भरने पर आपका आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा।

मुख्यमंत्री महिला एवं युवा उद्यमी योजना की शुरुआत

वैसे तो बिहार राज्य के सभी व्यक्ति अब जाने गए होंगे कि राज्य सरकार ने इस बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में महिलाओं को भी शामिल कर दिया है। राज्य की जो भी महिला इस योजना के लिए पात्र हैं , वह उद्योग शुरू करने के लिए महिला एवं युवा उद्यमी योजना के तहत आवेदन करके 10 लाख रुपए तक का लोन ले सकते है।योजना के लिए पात्र महिला को केवल 1% ब्याज की दर से वापस करना होगा। इस मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना के जरिए अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है। यदि आपने योजना के तहत आवेदन नहीं किया है तो जल्द से जल्द अपना आवेदन करे और योजना का लाभ उठाइए।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत सब्सिडी

जो भी लोग किस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उनके लिए इसके अंतर्गत उद्योग स्थापित करने के लिए किसी भी परियोजना की अधिकतम लागत ₹1000000 का 50% ब्याज रहित ऋण स्वीकृत किया जाएगा। और इसको बिहार स्टार्टअप फंड ट्रस्ट द्वारा 84 समान किस्तों में वापस किया जाएगा। साथ ही पहली किस्त 1 वर्ष के बाद देनी होगी। 10 लाख रुपए की राशि में अनुदान 50% आवेदक का होगा अर्थात ऋण और अनुदान का प्रतिशत 50:50 होगा। इसके अलावा सभी लाभार्थियों को किसी भी परियोजना के प्रशिक्षण के लिए ₹25000 की दर से प्रतीक आई सहायता दी जाएगी।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की पात्रता

  • योजना के तहत आवेदन की उम्र 18 साल से लेकर 40 वर्ष के बीच में होनी आवश्यक है।
  • Bihar CM Udyami Yojana 2022 में आवेदन केवल बिहार राज्य के निवासी ही कर सकते है।
  • आवेदक व्यक्ति अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति का होना अनिवार्य है।
  •  बिहार एससी एसटी उद्यमी योजना के माध्यम से शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट,आईटीआई, पॉलिटेक्निक या फिर 10 वी या 12 कक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  • आवेदक को संस्थान प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप, लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप या प्राइवेट लिमिटेड
  • कंपनी के तहत पंजीकृत होना चाहिए।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 से संबंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

बिहार उद्यमी योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन हेतु कहाँ जाना होगा ?

बिहार उद्यमी योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन हेतु आप योजना की आधिकारिक वेबसाइट www.startup.bihar.gov.in पर आवेदन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को उनके खुद के रोजगार की स्थापना हेतु आर्थिक सहयोग प्रदान करना है, जिससे राज्य में बेरोजगारी की दरें कम हो सकेंगी साथ ही राज्य के युवा एवं महिलाएँ योजना का लाभ प्राप्त कर आत्मनिर्भर हो सकेंगे इससे राज्य में उद्योग को बढ़ावा दिया जा सकेगा।

योजना के अंतर्गत आवेदक को क्या क्या लाभ प्रदान किया जाएगा ?

आवेदनकर्ता को योजना के अंतर्गत अपने खुद के स्वरोजगार या नए उद्योग की स्थापना करने के लिए 10 लाख रूपये के ऋण की धनराशि का 50 प्रतिशत (पाँच लाख) अनुदान और बाकी 50 प्रतिशत ऋण मुक्त लोन के रूप में दिया जाता है, साथ ही प्रशिक्षण एवं PMA सहायता के लिए आवेदकों को 25000 रूपये भी प्रदान किये जाते हैं।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में आवेदन हेतु किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी ?

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में आवेदन हेतु आवेदक के पास उनका आधारकार्ड, निवास प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र, संस्था रजिस्टर्ड प्रमाण पत्र, बैंक अकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर आदि दस्तावेज होने आवश्यक है।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का आवेदन करने के लिए कौन पात्र होंगे ?

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana के अंतर्गत राज्य के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के नागरिक योजना में आवेदन हेतु पात्र होंगे।

योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले ऋण का कितनी किश्तों में भुगतान किया जाता है ?

बिहार उद्यमी योजना के अंतर्गत दिए जाने वाला ऋण आवेदक को 84 किश्तों में भुगतान करना आवश्यक है।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

बिहार मुख्यमंत्री योजना की आवेदन प्रक्रिया हमने अपने लेख के माध्यम से प्रदान कर दी है, आप ऊपर लेख में दी गई प्रक्रिया को पढ़कर आवेदन कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना बिहार से संबंधित हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर 1800 345 6214 है।

हेल्पलाइन नंबर

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना से जुडी सारी जानकारी हमनी आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान कर दी है, परन्तु फिर भी यदि आपको योजना से सम्बंधित कोई अन्य जानकारी या समस्या हो तो आप मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के हेल्पलाइन नंबर 1800 345 6214 पर संपर्क करके अपनी समस्या का हल प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.